Join us?

खेल

NZ vs AUS: ऑस्ट्रेलिया ने टेस्ट सीरीज में न्यूजीलैंड का 2-0 से किया सूपड़ा साफ

नई दिल्ली। क्राइस्टचर्च टेस्ट में खेले गए दूसरे टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलियाई टीम ने न्यूजीलैंड को 3 विकेट से मात देकर दो मैचों की टेस्ट सीरीज 2-0 से अपने नाम की। पहली पारी में 162 रन पर ऑलआउट होने के बाद दूसरी पारी में कीवी टीम ने 372 रन का स्कोर बनाया था और ऑस्ट्रेलिया को 279 रन का टारगेट मिला था। ऑस्ट्रेलिया ने पहली पारी में 256 रन बनाकर 94 रन की बढ़त हासिल की थी। इसके जवाब में दूसरी पारी में कंगारू टीम बीते दिन यानी 10 मार्च तक न्यूजीलैंड से पिछड़ते हुए नजर आ रही थी, लेकिन 11 मार्च को कंगारू टीम के बैटर एलेक्स कैरी और मिचेल मार्च ने पूरा मैच ही पलट दिया। एलेक्स कैरी ने नाबाद 98 रन की पारी खेलकर कंगारू टीम को धांसू जीत दिलाई।
दरअसल, ऑस्ट्रेलियाई टीम ने दो मैचों की टेस्ट सीरीज के आखिरी मैच में टॉप जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया था। जोश हेजलवुड और मिचेल स्टार्क की घातक गेंदबाजी के सामने न्यूजीलैंड की पूरी टीम पहली पारी में 162 रन पर ढेर हो गई। जोश ने 5 विकेट, जबकि स्टार्क ने 3 विकेट हासिल किए। कीवी टीम की तरफ से टॉम लैथम ने सबसे ज्यादा 38 रन बनाए। इसके जवाब में ऑस्ट्रेलियाई टीम ने पहली पारी में मार्नस लाबुशेन के 90 रन की पारी के दम पर 256 रन बनाकर टीम को 94 रन की अहम बढ़त हासिल की। इसके अलावा कोई भी बल्लेबाज 30 रन भी नहीं बना सका।
न्यूजीलैंड की तरफ से मैट हेनरी ने घातक गेंदबाजी करते हुए 7 विकेट अकेले झटके थे। इसके जवाब में दूसरी पारी में कीवी टीम की तरफ से रचिन रविंद्र, टॉम और डेरेल ने अर्धशतक जड़ा और 372 रन बनाए। ऑस्ट्रेलिया के पास 94 रन की बढ़त थी तो उसे 279 रन का टारगेट मिल 10 मार्च के खेल तक ऑस्ट्रेलियाई टीम ने 279 रन का पीछा करते हुए जल्दी अपने विकेट गंवा दिए थे। मैट हेनरी ने स्टीव स्मिथ को अपने जाल में फंसाया और बेन सियर्स ने एक आसान कैच करके मार्नस लाबुशेन को आउट किया। कंगारू टीम ने 4 विकेट के नुकसान पर 74 रन बना लिए थे। इसके बाद 11 मार्च को कंगारू टीम के लिए दो बल्लेबाजों ने रियल हीरो का काम किया। मिचेल मार्श और एलेक्स कैरी ने तूफानी बैटिंग करते हुए पूरे मैच का रुख बदल दिया।
न्यूजीलैंड की टीम ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपने घर में टेस्ट क्रिकेट में 31 साल का सूखा खत्म नहीं कर सकी। न्यूजीलैंड ने अपने घर में ऑस्ट्रेलिया को 1993 के बाद से अब तक पिछले 11 मैचों में हरा नहीं पाई थी और अब यह 12वां मैच रहा जहां कीवी टीम के हाथों निराशा ही लगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
अपने रक्तचाप को कैसे करें नियंत्रित तेजी से सुधारें अपनी अंग्रेजी छत्तीसगढ़ में शानदार वॉटरफॉल स्पॉट….