Join us?

शिक्षा

आंजनेय विश्वविद्यालय में दो दिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय कॉन्फ्रेंस का आयोजन 14 से 15 जून को

उद्यमशीलता विकास में वैश्विक क्षितिज: नवाचार, अवसर और प्रभाव पर केंद्रित

रायपुर: उद्यमशीलता विकास और नवाचार के नए अवसरों पर विचार-विमर्श के लिए आंजनेय विश्वविद्यालय 14 से 15 जून 2024 के बीच दो दिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय कॉन्फ्रेंस का आयोजन कर रहा है। इस कॉन्फ्रेंस की थीम “Global Horizons in Entrepreneurial Development: Innovations, Opportunities, and Impact” रखी गई है। इस अन्तर्राष्ट्रीय कॉन्फ्रेंस का उद्देश्य उद्यमशीलता में नवाचार, समृद्धि और विकास के महत्वपूर्ण तत्वों पर चर्चा करना है, जिससे समाज को सकारात्मक परिवर्तन की दिशा में प्रेरित किया जा सके। इस आयोजन के माध्यम से, व्यक्तियों को नए और संवेदनशील दृष्टिकोण की ओर आग्रहित किया जायेगा, जो उन्हें संभावनाओं की नई दिशा में सोचने के लिए प्रेरित करेगा।

आंजनेय विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. टी रामाराव ने कहा, “इस कॉन्फ्रेंस का मुख्य उद्देश्य उद्यमशीलता के नवाचार से समाज को लाभान्वित करना है। यह नए विचारों, प्रौद्योगिकियों, उत्पादों और सेवाओं को जन्म देता है, जो समस्याओं का समाधान करते हैं और बाजार में नए अवसर पैदा करते हैं। इससे न केवल व्यक्तियों की समृद्धि होती है, बल्कि समाज और अर्थव्यवस्था भी सुदृढ़ होती है। इस कॉन्फ्रेंस के माध्यम से हम इन पहलुओं पर विस्तार से चर्चा करेंगे।”कार्यक्रम की संयोजिका एवं वाणिज्य एवं प्रबंधन की संकायाध्यक्ष डॉ. जैस्मिन जोशी ने बताया कि “आज हमने सम्मेलन से जुड़ी जानकारी और पोस्टर साझा किया है। प्रोफेशनल, शिक्षक, शोधार्थी और विद्यार्थी इस अन्तर्राष्ट्रीय कॉन्फ्रेंस में भाग लेने के लिए https://forms.gle/y5nGJhqxfkviUsHB6 पर जाकर पंजीकरण कर सकते हैं।” आंजनेय विश्वविद्यालय के इस अन्तर्राष्ट्रीय कॉन्फ्रेंस में राष्ट्रीय और अन्तर्राष्ट्रीय स्तर के प्रतिष्ठित वक्ता अपने विचार प्रस्तुत करेंगे। सम्मेलन का उद्देश्य नवाचार और उद्यमशीलता के माध्यम से समाज में सकारात्मक परिवर्तन लाना है।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button