Join us?

छत्तीसगढ़

महिला एवं बाल विकास मंत्री राजवाड़े के मुख्य आतिथ्य में दो दिवसीय रामगढ़ महोत्सव का हुआ शानदार समापन

रायपुर।दो दिवसीय रामगढ़ महोत्सव का शानदार समापन रविवार को हुआ। समापन अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में महिला एवं बाल विकास तथा समाज कल्याण मंत्री श्रीमती लक्ष्मी राजवाड़े उपस्थित रहीं। इस अवसर पर अम्बिकापुर विधायक राजेश अग्रवाल, लुण्ड्रा विधायक प्रबोध मिंज, प्रेमनगर विधायक श्री भूलन सिंह मरावी, पूर्व सांसद श्री कमलभान सिंह, कलेक्टर विलास भोसकर, जिला पंचायत सीईओ श्री नूतन कुमार कंवर के साथ ही स्थानीय जनप्रतिनिधि तथा जिला एवं खंड स्तरीय अधिकारी और बड़ी संख्या में आमजन मौजूद रहे। भगवान श्री राम के भक्तिमय गीतों से राममय हुआ माहौल, सांस्कृतिक प्रस्तुतियों से सजी संध्या, स्थानीय एवं आमंत्रित कलाकारों ने दी एक से बढ़कर एक प्रस्तुतियां
समापन अवसर पर मुख्य अतिथि महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती लक्ष्मी राजवाड़े ने सभी को 48वें रामगढ़ महोत्सव की शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि भगवान श्रीराम, माता सीता एवं श्री लक्ष्मण के चरण सरगुजा में पड़े, हमारा सौभाग्य है। अयोध्या में भी श्रीराम लला अपने मंदिर में स्थापित हुए हैं। भगवान श्री राम को मर्यादा पुरुषोत्तम कहा जाता है। हमें उनके गुणों को आत्मसात करना चाहिए। उनके गुणों से हमें जीवन जीने की सीख मिलती है। उन्होंने कहा कि शासन का प्रयास है कि रामगढ़ की भव्यता और बढ़े। अंबिकापुर विधायक राजेश अग्रवाल ने कहा कि आने वाले समय में रामगढ़ महोत्सव को भव्य बनाया जायेगा। हमारा प्रयास होगा महोत्सव को तीन दिन का किया जाए। उन्होंने कहा कि महोत्सव स्थल पर जरूरी सुविधाओं को पूरा किया जायेगा। ऊपर मंदिर की सीढिय़ां और प्रकाश की व्यवस्था को बेहतर बनाया जायेगा। लुण्ड्रा विधायक श्री प्रबोध सिंह ने इस अवसर पर कहा कि रामगढ़ महोत्सव में शोध संगोष्ठी के आयोजन से रामगढ़ की भूमि में श्रीराम के आगमन के विभिन्न प्रमाण मिलते हैं। इस रामगढ़ में उन्होंने समय बिताया जिसके परिणाम है सीता बेंगरा, जोगीमारा गुफाएं और विभिन्न तालाब है। कवि कालिदास ने अपने महाकाव्य मेघदूत की रचना यहां की। इसके महत्व को अक्षुण्ण बनाए रखने रामगढ़ महोत्सव मनाया जा रहा है। प्रेमनगर विधायक श्री भूलन सिंह मरावी ने इस अवसर पर कहा कि रामगढ़ महोत्सव में सरगुजा की सांस्कृतिक, और धार्मिक झलक देखने को मिलती है। श्रीराम को जब वनवास मिला, उस दौरान उन्होंने अपना कुछ समय यहां बिताया। हमारा सौभाग्य है कि इस जगह पर आने का सौभाग्य हमें मिलता है। उन्होंने रामगढ़ महोत्सव के समापन अवसर पर सभी को शुभकामनाएं दीं।
अपर कलेक्टर सुनील नायक ने कार्यक्रम का प्रतिवेदन प्रस्तुत किया और सीईओ जिला पंचायत नूतन कंवर ने आभार व्यक्त किया।भगवान राम के भक्तिमय गीतों से राममय हुआ माहौल, सांस्कृतिक प्रस्तुतियों से सजी संध्या, स्थानीय एवं आमंत्रित कलाकारों ने दीं एक से बढ़कर एक प्रस्तुतियां समापन समारोह में एक से एक बढ़कर एक प्रस्तुतियों ने दर्शकों को देर शाम तक कार्यक्रम स्थल पर बांधे रखा। इस दौरान बड़ी संख्या में नागरिकगण उपस्थित रहे। समापन समारोह में विद्यालयीन छात्र-छात्राओं की सुंदर प्रस्तुतियों, लोक कलाकारों की प्रस्तुतियों के साथ ही आमंत्रित कलाकारों ने भी गीत-संगीत, नृत्य की शानदार प्रस्तुतियां दीं। जिसमें सरगुजिहा लोक गायक संजय सुरिला द्वारा प्रस्तुति दी गई। इसके साथ ही रायपुर से आए स्वास्तिक नृत्य ग्रुप द्वारा भगवान श्री राम के जीवन प्रसंग पर आधारित नृत्य की मनमोहक प्रस्तुति दी गई, वहीं श्री राम बैण्ड ग्रुप के भक्तिमय गीतों ने महोत्सव को राममय किया। इस दौरान मेला स्थल पर सजी दुकानों एवं आकर्षक झूलों का भी लोगों ने भरपूर आनंद उठाया। इस अवसर पर अतिथियों द्वारा विभिन्न विभागों द्वारा लगाए गए स्टॉल का निरीक्षण किया गया। कृषि विकास एवं किसान कल्याण तथा जैव प्रौद्योगिकी विभाग के स्टॉल में 07 सिंचाई पम्प, 94 मृदा स्वास्थ्य कार्ड, 40 को कोदो बीज, 40 किसानों को रागी बीज का वितरण किया गया। विभागीय स्टॉलों में आमजनों को हितग्राहीमूलक योजनाओं के सम्बन्ध में जानकारी दी गई।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button