Join us?

विदेश

बेल्जियम ने यूक्रेन को एक बिलियन अमेरिकी डॉलर की मदद का वादा किया

मॉस्को। रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने मंगलवार को पश्चिमी देशों को चेतावनी दी है कि वे यूक्रेन को रूस पर हमला करने के लिए अपनी मिसाइलें न दें अन्यथा इसके गंभीर परिणाम हो सकते हैं। विश्व युद्ध छिड़ सकता है। यूरोप में नाटो के सदस्य यूक्रेन को पश्चिम के हथियारों का इस्तेमाल करने का प्रस्ताव देकर आग से खेल रहे हैं। यही नहीं, पुतिन ने कहा कि रूस ने यूक्रेन से शांति वार्ता का कभी विरोध नहीं किया है बल्कि यूक्रेन ही शांति वार्ता से पीछे हट गया है। हम यूक्रेन के साथ शांति वार्ता के लिए तैयार हैं। इस बीच रूसी सेना यूक्रेन के खार्कीव प्रांत में और आगे बढ़ गई है। पुतिन का कहना है कि पश्चिम ने ही यूक्रेन के खार्किव क्षेत्र में रूसी सैनिकों को हमले के लिए उकसाया। रूस की ओर से यूक्रेन के निकटवर्ती रूसी क्षेत्र बेलग्रेड पर हमला न करने की चेतावनी के बावजूद इसकी अनदेखी की गई।
रूस ने दी चेतावनी
उन्होंने कहा कि पश्चिम द्वारा आपूर्ति किए गए हथियारों से रूसी क्षेत्र पर हमले केवल पश्चिमी विशेषज्ञों की मदद से ही संभव है। उन्होंने चेतावनी देते हुए कि इससे पश्चिमी देशों को भारी नुकसान हो सकता है। उन्हें गंभीर परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं। उधर, नाटो महासचिव जेन्स स्टोलटेनबर्ग ने इकोनामिस्ट को बताया कि गठबंधन के सदस्य देशों को यूक्रेन को रूस के अंदर तक हमला करने देना चाहिए। यहां यह भी बता दें कि ब्रिटेन के विदेश मंत्री डेविड कैमरन ने कहा था कि यूक्रेन को अधिकार है कि वह ब्रिटेन के दिए हथियारों का इस्तेमाल रूसी धरती पर हमलों के लिए करे।
रूसी राष्ट्रपति ने कही ये बात
पुतिन ने कहा कि यूक्रेन को राष्ट्रपति पद का चुनाव कराना चाहिए क्योंकि यूक्रेनी राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की का पांच साल का कार्यकाल पूरा हो चुका है। कार्यकाल समाप्त होने के बाद जेलेंस्की को चुनाव का सामना नहीं करना पड़ा है। रूसी राष्ट्रपति ने कहा कि देखा जाए तो यूक्रेन में एकमात्र वैध अथार्टी अब वहां की संसद है और इसके मुखिया को सभी शक्तियां दी जानी चाहिए। इस बीच यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की को यूरोपीय संघ के तीन देशों के दौरे के दौरान सैन्य सहायता का दूसरा एक बिलियन अमेरिकी डालर की मदद का वादा बेल्जियम से मिला है। बेल्जियम ने अगले चार वर्षों में यूक्रेन को 30 एफ-16 लड़ाकू विमान देने की प्रतिबद्धता के साथ धनराशि भी बढ़ा दी है। जेलेंस्की ने कहा कि इस साल युद्ध के मैदान में एफ-16 का इस्तेमाल कर अपनी स्थिति मजबूत करेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button