शराब पीकर बड़ा भाई मां को दे रहा था गाली, छोटे भाई ने पटक-पटककर मार डाला

शराब के नशे में मां से गाली-गलौज और विवाद करने से गुस्साए छोटे भाई ने अपने ही बड़े भाई को मौत के घाट उतार दिया। छोटे भाई ने बड़े भाई की जमकर पिटाई की और गला दबाते हुए उसके सिर को सड़क पर कई बार पटक दिया, जिससे उसकी घटना स्थल पर ही मौत हो गई। जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। घटना रविवार रात की बताई जा रही है। पूरा मामला खल्लारी थाना क्षेत्र के ग्राम चरौदा का है। पुलिस ने सुबह शव का पीएम कराकर परिजनों को सौंप दिया और मामले में हत्या के तहत जुर्म दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। खल्लारी थाना प्रभारी दीपा केंवट ने बताया कि ग्राम चरौदा निवासी महेश ने अपने बड़े भाई महेंद्र को पटक-पटककर मार डाला। आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। मामला रविवार रात का है। रविवार की रात महेंद्र ध्रुव (28 वर्ष) शराब के नशे में घर पहुंचा। घर में ही उसने मां जानकी बाई के साथ गाली-गलौज करते हुए विवाद करने लगा। इसी दौरान छोटे भाई महेश ध्रुव (24 वर्ष) ने महेंद्र को काफी समझाने की कोशिश की और विवाद करने से मना किया, लेकिन महेंद्र और ज्यादा उग्र हो गया। इससे महेश भी आवेश में आ गया और बड़े भाई को घर से बाहर निकालते हुए धक्का दे दिया। धक्का खाकर महेंद्र नशे की हालत में घर के बाहर सड़क पर गिर गया। गुस्से में महेश ने महेंद्र की छाती पर बैठकर उसका गला दबाते हुए उसके सिर को सड़क पर पटकने लगा। आखिरकार महेंद्र अचेत हो गया और उसने दम तोड़ दिया। घटना के बाद ग्रामीणों ने महेश काे पकड़कर रखा और पुलिस के आने के बाद उनके हवाले कर दिया।

घटना के बाद ग्रामीणों ने फोनकर हत्या होने के बारे में जानकारी थाने में दी
प्रारंभिक पूछताछ में पता चला है कि दोनों भाइयों के बीच लगातार विवाद होता रहता था। घटना के एक दिन पहले मृतक का छोटा भाई महेश भी शराब के नशे में घर पहुंचा था और विवाद कर रहा था। यही नहीं ऐसा कई बार हो चुका था। घरेलू विवाद के कारण कई बार परिजनों ने दोनों भाई को समझाया था, लेकिन वे हर बार लड़ाई करते थे। इनके पिता की पहले ही मौत हो चुकी है और दोनों अपनी मां जानकी के साथ रहते थे। यही कारण है कि ग्रामीणों ने लड़ाई झगड़े की आवाज सुनी और कुछ ने तो पूरा घटनाक्रम देखा, लेकिन कोई बीच-बचाव करने के लिए नहीं आया। पुलिस की मानें तो घटना के बाद ग्रामीणों ने ही फोनकर हत्या होने के बारे में जानकारी थाने में दी।

महेश के खिलाफ कई शिकायतें
थाना प्रभारी दीपा केंवट ने बताया कि महेश शुरू से ही झगड़ालु प्रवृत्ति का है। उसके खिलाफ और भी कई मामले हैं। इसमें मारपीट और छेड़छाड़ के मामले भी पहले आए हैं। थाने में उसके खिलाफ कितने मामले दर्ज हैं, उसका रिकॉर्ड भी खंगाला जा रहा है।

You missed